1 मार्च 2018

" स्वर्ण विजेता योद्धा रियल लाइफ में फिस्सडी साबित हुआ "

 " स्वर्ण विजेता योद्धा  रियल लाइफ में फिस्सडी साबित हुआ "


 मार्क स्पिट्जनागल ने "ल्यूडिक विभ्रम" को एक  मार्शल आर्ट के योद्धा के सरल उदाहरण से समझाया है।



 "मार्शल आर्ट के योद्धा को कॉम्पिटिशन में जीतने के लिए विशेष रूप से प्रशिक्षित किया जाता है। उसकी एकाग्रता को बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण में उन तत्वों को शामिल नहीं किया जाता है जिनकी नियम अनुमति नहीं देतें है जैसे की गले में किक मरना ,या फिर अचानक से चाकू निकाल लेना।
इसका अर्थ ये है की प्रतियोगिता में स्वर्ण विजेता वास्तविक जीवन की लड़ाई में कमजोर साबित होगा क्यूंकि उसका प्रशिक्षण ही एक विशेष माहौल में हुआ है जिसका यथार्थ के धरातल में वजूद नहीं है। "





LUDIC  ल्यूडिक लैटिन शब्द है जिसका अर्थ होता है खेल।    खेल के अवधारणा को  वास्तविक जीवन में उपयोग  करने से जो विभ्रम उत्पन्न होता है उसे ल्यूडिक विभ्रम कहते हैं। सांखियकी के सामान्य और सरल  नियमों को शेयर मार्केट जैसे अत्यंत जटिल वातावरण में उपयोग करने से ल्यूडिक विभ्रम जैसी स्थिति उत्पन्न होती है। तालिब ने इस तर्क को उन सभी सांखियकीय समीकरणों के विरोध में दिया है जो शेयर  मार्केट के भविष्य के आंकलन के लिए उपयोग में लाये जाते है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें