30 अप्रैल 2011

कमल शर्मा के ये शब्द अनमोल है

गुरुदेव 
"आप जब छोटे थे तो क्या आप चिंता करते थे की आपका भोजन घर पर है की नहीं .आपको आपकी जरुरत की चीजे आपके  माता पिता पूरी करते है इसी प्रकार हम सब अपने गुरुदेव के बच्चे है इसलिये चिंता की क्या बात  है .बाप है हमारा वो देखेगा ." कमल शर्मा ने कहा .
कमल वस्तुतः गुरु के प्रेम सारे कल्याण हो जाने के बाबत एक गुरुभाई को आस्वस्त कर रहे थे .
"गुरु की धोती पकड़कर आप मांगों .वो आपका बाप है वो ही देगा .आप खुद करने की कोशिश मत करो .क्यों किसी क्रिया को करने की झोखिम लेते हो .मेरी तो सारी उपलब्धि गुरु की कृपा के कारण है.  "

कमल शर्मा के ये शब्द अनमोल  है